Home Daily News लहसुन के बंपर उत्पादन ने इस वर्ष प्रदेश के किसानों को मालमाल...

लहसुन के बंपर उत्पादन ने इस वर्ष प्रदेश के किसानों को मालमाल कर दिया है।

200
0
Please follow and like us:

#सोलन

लहसुन के बंपर उत्पादन ने इस वर्ष प्रदेश के किसानों को मालमाल कर दिया है। इस वर्ष सोलन सब्जी मंडी 35 हजार क्वंटल लहसुन आ चुका है। जबकि बीते वर्ष मात्र 32 हजार क्वंटल लहसुन की मंडी में पहुंचा था। आपको बता दें कि अक्तुबर तक लहसुन का सीजन चलेगा। उम्मीद जताई जा रही है कि इस वर्ष 50 हजार क्वंटल लहसुन मंडी में आ सकता है। खास बात यह है कि किसानों को लहसुन का रेट 100 रुपए प्रतिकिलो तक मिल रहा है।


हिमाचल प्रदेश के सोलन, शिमला व सिरमौर में काफी बढ़े स्तर पर लहसुन का उत्पादन किया जाता है। किसानों ने टमाटर व अन्य पारंरिक खेती को छोड़ कर लहसुन उत्पादन की शुरूवात की है। हिमाचली जिलों में होने वाले लहसुन की सबसे अधिक डिमांड दक्षिण भारत में रहती है। कर्नाटक, तमिलनाडू, व केरल सहित कंई राज्यों में सबसे अधिक हिमाचली लहसुन की सप्लाई की जाती है। गुणवत्ता के हिसाब से लोकल लहसुन काफी बेहतर माना जाता है। चाईनीज लहसुन की अपेक्षा हिमाचली लहसुन को लोग अधिक पसंद करते हैं। यही वजह है कि हिमाचली लहसुन की सप्लाई विदेशों में भी हुई है।

कोरोना की वजह से बीते दो वर्षो से लहसुन बाहरी देशों में नहीं जा रही है। भारत में ही लहसुन की इतनी अधिक खपत है कि रेट 80 से 100 रुपए प्रतिकिलो तक ही रहता है। बीते वर्ष भी लाकडाउन के दौरान लहुसन की रेट कम नहीं हुआ था।मार्किट कमेटी सोलन के सचिव रविंद्र शर्मा का कहना है कि लहसुन की काफी अच्छा उत्पादन इस वर्ष हुआ है। रेट भी किसानों को बेहतर मिल रहा है।

Please follow and like us:
Previous articleसंभाग के अरनिया सेक्टर में देखा गया ड्रोन,जम्मू
Next articleचार दिनों के बाद पुलिस के हत्थे चढ़ा हत्या का आरोपी,कुल्लू

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here