कुल्लू पुलिस ने अफ्रीकन नागरिक से बरामद की 6 किलो 257 ग्राम हेरोइन व 300 ग्राम गांजा

कुल्लू पुलिस ने अफ्रीकन नागरिक से बरामद की 6 किलो 257 ग्राम हेरोइन व 300 ग्राम गांजा

#आनी

करीब 4 माह पहले तक देवभूमि हिमाचल प्रदेश में 5 ग्राम चिट्टे की बरामदगी को भी बड़ा मामला माना जाता था। लेकिन इसके बाद कांगड़ा के नूरपुर क्षेत्र से ऐसी शुरूआत हुई कि ये मात्रा आधा किलो तक पहुंची। इसी बीच अब हिमाचल की कुल्लू पुलिस ने 6 किलो 297 ग्राम चिट्टा बरामद कर एक बड़ा रिकाॅर्ड बनाया है। चिट्टे के साथ-साथ 362 ग्राम गांजा भी बरामद किया गया है। बरामद किए गए चिट्टे की कीमत 30 करोड़ के आसपास आंकी जा रही है।

बता दें कि इस नशे को इस्तेमाल करने वालों द्वारा महंगे दामों पर खरीदा जाता है। संभव है कि उत्तर भारत में किसी राज्य की पुलिस की ये चुनिंदा सफलता होगी। एनसीबी को भी पिछले लंबे अरसे में इस तरह की सफलता शायद ही मिली हो। हाल ही में कुल्लू पुलिस ने आपरेशन जंगल के तहत भी चरस तस्करों की कमर तोड़ कर रख दी थी। हिमाचल पुलिस के महानिदेशक संजय कुंडू ने पत्रकारवार्ता के दौरान कुल्लू पुलिस की प्रशंसा करते हुए खुलासा किया कि चिट्टे की ये खेप दिल्ली से बरामद की गई है। इस मामले में अफ्रीकन मूल के 38 वर्षीय व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है।

एसआईयू प्रभारी सुनील सांख्यान के नेतृत्व में 9 सदस्यों की टीम को दिल्ली भेजा गया था। इसी टीम को ये बड़ी कामयाबी नशे के खिलाफ अभियान में मिली है।  कुल्लू के पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह ने कहा कि गिरफ्तार किए गए अफ्रीकन मूल के 38 वर्षीय व्यक्ति को कोर्ट में पेश किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि आरोपी के पास भारत में  रहने का वैध वीजा भी नहीं है। एसपी ने कहा कि इस मामले की पूरी जड़ तक पहुंचने की कोशिश की जा रही है। बहरहाल, काफी हद तक यह तय माना जा रहा है कि अफ्रीकन देशों से ताल्लुक रखने वाले लोग ही चिट्टे की तस्करी में संलिप्त होकर युवा पीढ़ी को नशे की गर्त में धकेल रहे हैं। उल्लेखनीय है कि आईपीएस गौरव सिंह हिमाचल के युवा आईपीएस अधिकारियों की फेहरिस्त में शामिल हैं।